1965 के जंग के दौरान ली गयी लाल बहादुर शास्त्री की...

जय जवान जय किसान का नारा देने वाले भारत के पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री की आज 114वीं जयंती है. लाल बहादुर शास्त्री जी ने...

इन्कलाब जिन्दाबाद क्या है? [सरदार भगत सिंह के पत्र(१)]

पिछले महीने एक किताब खरीदी - "सरदार भगत सिंह-पत्र और दस्तावेज". इस किताब में भगत सिंह के द्वारा लिखे गए पत्रों का संकलन है...

कष्टों से भागना कायरता है – भगत सिंह

भगत सिंह और सुखदेव दोनों को ही फांसी की सजा का हुक्म हो चूका था.देश में फांसी की सजा के विरुद्ध क्रोध उफान उठा...

राष्ट्रगान – कितना सम्मान और कितना अपमान

पहली बात तो ये की आज के युवाओं में से अधिकतर ये तक नहीं बता पायेंगे की राष्ट्रगान कौन सा और राष्ट्रगीत क्या है..दोनों के...

मैं तो एक भी हिन्दुस्तानी से नहीं मिला ?

एक अमेरिकन भारत घूमने आया, खूब घुमा और बहुत सारी मीठी यादों के साथ वापस अपने देश लौट आया..वहाँ जब उसके एक हिन्दुस्तानी दोस्त...

भगतसिंह के पत्र – ५

23 मार्च - शहीद दिवस अपने ब्लॉग पर मैंने पहले भी भगतसिंह के कुछ पत्र लगाये हैं, आज फिर से उनके लिखे तीन पत्र अपने...

सुखदेव और राजगुरु

शहीद दिवस पर सिर्फ भगत सिंह का नाम अकेले नहीं लिया जाता. जितने सम्मान और आदर के साथ हम भगत सिंह का नाम लेते...

तेईस मार्च को : भगत सिंह पर लिखी गयी कुछ कवितायें

उन दिनों जब भगत सिंह को फांसी की ख़बरें सुनाई जा रही थी, लोगों ने खूब कवितायेँ लिखी उनके लिए. खूब आलेख छपे भगत...

याद कर लेना कभी हमको भी भूले भटके

अक्सर हम अब अपनी ज़िन्दगी में और बेवजह के मसलों में ऐसा उलझ कर रह जाते हैं, कि बहुत सी बातें हम भूलते चले...

हमें फाँसी देने के बजाय गोली से उड़ाया जाए

भगत सिंह के पत्र - ६ भगत सिंह और उनके दोनों साथियो को फांसी लगने ही वाली है. यह सबकी राय थी. उसे किसी...