याद कर लेना कभी हमको भी भूले भटके

अक्सर हम अब अपनी ज़िन्दगी में और बेवजह के मसलों में ऐसा उलझ कर रह जाते हैं, कि बहुत सी बातें हम भूलते चले...

तेईस मार्च को : भगत सिंह पर लिखी गयी कुछ कवितायें

उन दिनों जब भगत सिंह को फांसी की ख़बरें सुनाई जा रही थी, लोगों ने खूब कवितायेँ लिखी उनके लिए. खूब आलेख छपे भगत...

1965 के जंग के दौरान ली गयी लाल बहादुर शास्त्री की...

जय जवान जय किसान का नारा देने वाले भारत के पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री की आज 114वीं जयंती है. लाल बहादुर शास्त्री जी ने...

सुखदेव और राजगुरु

शहीद दिवस पर सिर्फ भगत सिंह का नाम अकेले नहीं लिया जाता. जितने सम्मान और आदर के साथ हम भगत सिंह का नाम लेते...

भगत सिंह ने घर वालों को जो ख़त लिखे

भगत सिंह के पत्र - ७भगत सिंह की कलम से लिखा गया  पहला खत अपने दादा के नाम था जो उन्होंने तब लिखा था...

हमें फाँसी देने के बजाय गोली से उड़ाया जाए

भगत सिंह के पत्र - ६ भगत सिंह और उनके दोनों साथियो को फांसी लगने ही वाली है. यह सबकी राय थी. उसे किसी...

गांधी संग्रहालय पटना में एक दिन

बड़े दिनों से दिल कर  रहा था लेकिन कभी मौका नहीं मिल पा रहा था, इस बार फिर से अपने उसी दोस्त के साथ...

भगतसिंह के पत्र – ५

23 मार्च - शहीद दिवस अपने ब्लॉग पर मैंने पहले भी भगतसिंह के कुछ पत्र लगाये हैं, आज फिर से उनके लिखे तीन पत्र अपने...

कष्टों से भागना कायरता है – भगत सिंह

भगत सिंह और सुखदेव दोनों को ही फांसी की सजा का हुक्म हो चूका था.देश में फांसी की सजा के विरुद्ध क्रोध उफान उठा...

सुखदेव के नाम सरदार भगत सिंह का एक पत्र

सुखदेव और भगत सिंह दोनों अभिन्न साथी थे.उनकी मित्रता का आधार दोनों की अध्यन-शीलता थी.सुखदेव की संगठन-शक्ति अदभुत थी,पर उनमें मानसिक स्थिरता की कमी...