Home 2017 December

Monthly Archives: December 2017

किस्सा जूतों का

नोट्स फ्रॉम डायरी - २९ नवम्बर २०१७ आज बड़े दिन बाद नए जूते लिए.. जूतों के मामले में मैं बाकी लोगों से थोडा आलसी किस्म का...

चावरी बाज़ार – शादियों के कार्ड का मार्केट

शादियों में यूं तो सैकड़ों काम होते हैं, लेकिन सबसे बड़े और महत्वपूर्ण काम होता है वो है शादी के कार्ड सेलेक्ट करने का...

ट्रेन नोट्स – अयांश बाबु की शैतानियों के चिट्ठे

मेरे भांजे अयांश बाबू की बदमाशियां दिन ब दिन बढ़ते जा रही है. जैसे जैसे ये बड़ा होते जा रहा है, वैसे वैसे इसकी...

देखते देखते दिनों का बीत जाना – निमिषा के लिए

पिछले सप्ताह मेरी छोटी बहन निमिषा की शादी  थी. निमिषा जिसे  मैं अक्सर "निम्मो" कह कर बुलाता हूँ, वो मेरी सबसे प्यारी बहन है....