अम्बानी के महंगे घर में उनका एक दिन

अमीरी भी कितनी मुसीबतें साथ लाती है, देखिये इस पोस्ट में. दो दिन पहले प्रियंका गुप्ता जी का एक ई-मेल आया था, उसी को यहाँ लगा रहा हूँ..हो सकता है आपने पढ़ा भी हो…एक बार फिर पढ़ लें-

मुकेश अम्बानी का घर, जो बन रहा है…बनने के बाद
वैसा ही दिखेगा जैसा चित्र में है.
मुकेश अम्बानी के नए घर एंटिला के बारे में तो सब जानते ही हैं.करीब 4600cr की लागत से बना “एंटिला”  27 मंजिला वाला घर होगा जिसमे 180 कार पार्क हो सकते हैं, घर के ऊपर तीन हेलीपैड बने होंगे, स्विमिंग पुल, सिनेमा हॉल, हैंगिंग गार्डन जैसा ही एक गार्डन..और इतने बड़े घर में मुकेश अम्बानी अपने परिवार के छः सदस्यों के साथ रहेंगे.घर के बनने को लेकर और ज़मीन सस्ते दाम में मिलने को लेकर कुछ दिक्कतें तो आ ही रही हैं मुकेश अम्बानी के सामने, वहीँ दूसरी तरफ अनिल अम्बानी ने भी ठीक “एंटिला” जैसा ही घर बनाने की घोषणा कर दी है..खैर, ये पोस्ट न तो उन क़ानूनी बातों को लेकर है और ना ही किसी दूसरे गंभीर मसलों पे..इस पोस्ट में तो आपको दिखाऊंगा मुकेश अम्बानी के घर में एक दिन.
मुकेश सो के उठते हैं..15वें माले पे उनका सोने का कमरा है..फिर वो स्विमिंग करने स्विमिंग पुल में जाते हैं जो की 17वें माले पे है..फिर ब्रेकफास्ट करने 19वें फ्लोर पे जाते हैं..14वें फ्लोर पे वो तैयार होते हैं..अपने पर्सनल ऑफिस से जरुरी कागजात इकट्ठा करते हैं जो की 21वें फ्लोर पे है.16वें फ्लोर पे नीता अम्बानी को गुड बाय कहते हैं, और फिर अपने बच्चों से मिलने जाते हैं 13वें फ्लोर पे. सब काम करते हुए वो अपने गैराज में आते हैं, अपने 2.5Crore की मर्सिडीज से ऑफिस जाने के लिए..लेकिन फिर उन्हें ख्याल आता है की चाबी तो उनके पास नहीं है, वो घर में ही भूल आयें हैं..लेकिन कहाँ? 15वें, 16वें, 13वें 21वें..किस फ्लोर पे? 
वो अपने सारे नौकरों, सेक्रेटरी, पुल अटेंडेंट, कुक सबको फोन करते हैं.पुरे घर में अच्छे से खोजा जाता है लेकिन  चाबी कहीं नहीं मिलता..मुकेश अम्बानी तंग आ कर पास में पार्क फोर्ड आइकोन जैसे साधारण गाड़ी से दफ्तर जाते हैं. 
दो दिन बाद ये पता चला की मुकेश अम्बानी अपनी गाड़ी का चाबी अपने पैंट के जेब में ही भूल गए थे.उनके पर्सनल धोबी ने उनका वो पैंट धो के 16वें फ्लोर पे सुखाने के लिए डाला था और काफी तेज हवा चलने के कारण चाबी पैंट से बाहर निकल कहीं फेंका गयी होगी और फिर वो चाबी कहीं मिली नहीं.
तीन दिनों बाद नीता अम्बानी ने मुकेश अम्बानी से शिकायत की, की कहाँ घूम रहे थे आप कल रात के तीन बजे तक?
मुकेश अम्बानी ने कहा “मैं तो कल सारी रात घर पे ही था”
नीता अम्बानी इसपे कहने लगी ” तो फिर कल रात हेलीकोप्टर क्यों लैंड किया था हेलीपैड पे??मुझे लगा की आप कहीं गए होंगे?मैं काफी परेसान थी..पूरी रात मैं सो नहीं सकी.”
मुकेश अम्बानी ने कहा – 

अरे वो हेली कोप्टर, वो तो जर्मनी से मर्सिडीज कंपनी वालों ने भेजा था डुप्लिकेट चाबी पहुंचाने के लिए 🙂

Recent Articles

हरि रूठे गुरु ठौर है, गुरु रुठै नहीं ठौर : शिक्षक दिवस पर खास

सुदर्शन पटनायक द्वारा बनाया गया, चित्र उनके ट्विटर से लिया गया आज शिक्षक दिवस है, यह दिन भारत के प्रथम उप-राष्ट्रपति और दूसरे राष्ट्रपति डॉ....

तीज की कुछ यादें, कुछ अभी की बातें और एक आधुनिक समस्या

इस साल के तीज पर बने पेड़कियेबचपन से ही तीज का पर्व मेरे लिए एक ख़ास पर्व रहा है. सच कहूँ तो उन दिनों इस...

एक वो भी था ज़माना, एक ये भी है ज़माना..

बारिश हो रही हो, मौसम सुहाना हो गया हो और ऐसे में अगर कुछ पुराना याद आ जाए तो जाने क्या हो जाता है...

बंद हो गयी भारत की सबसे आइकोनिक कार, जानिये क्यों थी खास और क्या था इतिहास

Photo: CarToqपिछले सप्ताह, अचानक एक खबर आँखों के सामने आई, कि मारुती अपनी गाड़ी जिप्सी का प्रोडक्शन बंद कर रही है. एक लम्बे समय...

आईये, बंद दरवाजों का शहर से एक मुलाकात कीजिये

यूँ तो साल का सबसे खूबसूरत महिना होता है फरवरी, लेकिन जाने क्यों अजीब व्यस्तताओं और उलझनों में ये महिना बीता. पुस्तक मेला जो...

Related Stories

  1. ही ही…सच में बड़ी समस्या है..
    अच्छा ही है हमारे पास उतना पैसा नहीं है 🙂

  2. क्‍या विश्‍लेषण किया है? मजा आ गया। पहले तो सोचा कि वहीं अम्‍बानी जी के घर के लिए कोई पोस्‍ट है लेकिन फिर लगा कि माजरा कुछ और है। पढा तो आनन्‍द आ गया। बढियां

  3. ऐसा ही सब होने वाला है..बल्कि इस से बढ़कर भी बहुत कुछ….जो हमें कभी पता ही ना चले…

  4. बड़े लोगों की बड़ी बड़ी बातें
    रोचक लगी आपकी पोस्ट
    आभार

    क्रिएटिव मंच के नए आयोजन
    'सी.एम.ऑडियो क्विज़' में आपका स्वागत है.
    यह आयोजन कल रविवार, 12 दिसंबर, प्रातः 10 बजे से शुरू हो रहा है .
    आप का सहयोग हमारा उत्साह वर्धन करेगा.
    आभार


  5. बेहतरीन पोस्ट लेखन के बधाई !

    आशा है कि अपने सार्थक लेखन से,आप इसी तरह, ब्लाग जगत को समृद्ध करेंगे।

    आपकी पोस्ट की चर्चा ब्लाग4वार्ता पर है – देखें – 'मूर्ख' को भारत सरकार सम्मानित करेगी – ब्लॉग 4 वार्ता – शिवम् मिश्रा

  6. बहुत बढ़िया अभिषेक जी ,
    मेरी मेल का बड़ा सुन्दर उपयोग किया है…। बधाई…।
    फिर से पढ़ कर मज़ा आ गया…।

  7. पांच लाख से भी जियादा लोग फायदा उठा चुके हैं
    प्यारे मालिक के ये दो नाम हैं जो कोई भी इनको सच्चे दिल से 100 बार पढेगा।
    मालिक उसको हर परेशानी से छुटकारा देगा और अपना सच्चा रास्ता
    दिखा कर रहेगा। वो दो नाम यह हैं।
    या हादी
    (ऐ सच्चा रास्ता दिखाने वाले)

    या रहीम
    (ऐ हर परेशानी में दया करने वाले)

    आइये हमारे ब्लॉग पर और पढ़िए एक छोटी सी पुस्तक
    {आप की अमानत आपकी सेवा में}
    इस पुस्तक को पढ़ कर
    पांच लाख से भी जियादा लोग
    फायदा उठा चुके हैं ब्लॉग का पता है aapkiamanat.blogspotcom

  8. भाई, कई कारणों से ये पोस्ट इतने दिन बाद पढ़ कर मज़ा आई…और फिर से कमेंट कर रहे यहाँ…|
    (एक कमेन्ट उस ज़माने का है यहाँ…:P )
    इसे एक जगह एडिट करने के बारे में क्या ख्याल है…भैय्या…??? 🙂 😛 <3

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

नयी प्रकाशित पोस्ट और आलेखों को ईमेल के द्वारा प्राप्त करें