ऋचा वेड्स अंशुमान : कुछ यादें

Monday, January 23, 2012
कभी कभी पता भी नहीं चलता की समय कैसे पंख लगा कर उड़ जाता है.अभी तो जैसे कल की ही बात थी की मेरी बहन की शादी हुई थी, और आज उसकी शादी हुए भी ए...

दीवाल पे टंगे चंद लम्हे

Wednesday, January 18, 2012
आजकल दिल्ली में हूँ और कुछ काम के सिलसिले में काफी भाग-दौड करना पड़ रहा है.अगले हफ्ते वापस बैंगलोर भी जाना है और फिर कुछ सालों के लिए परमान...

अलविदा बैंगलोर!

Monday, January 09, 2012
बैंगलोर डायरी : १  जब ये पोस्ट यहाँ स्केचुल पब्लिश्ड होगी, तब मैं अपना ये शहर छोड़ एक दूसरे शहर में पहुँच चूका हूँगा या फिर पहुँचने वाला ...

एक रात जो बहुत दिनों बाद आई (२)

Thursday, January 05, 2012
कभी कभी सुख के पल उस वक्त आ धमकते हैं जब आप उसकी उम्मीद बिलकुल भी नहीं कर रहे होते हैं.पिछले कुछ दिनों से अपने 'द फेमस मूड स्विंग' क...
Powered by Blogger.