दो दोस्त --(माइक्रो पोस्ट)

Wednesday, July 27, 2011
मेरे दोस्त अकरम ने मुझे दो दिन पहले एक कहानी सुनाई थी फोन पर - अकरम -  दो दोस्त थे, दोनों एक दूसरे को बहुत अच्छे तरह समझते थे, दोनों...

२६ जुलाई - विजय दिवस

Tuesday, July 26, 2011
ऐतिहासिक  जीत.. अविस्मरणीय पल    प्रभात और मती के अलावा और किसी भी दोस्त का उन दिनों घर पे आना नहीं होता था.२६ जुलाई को जब कारगिल युद्ध म...

हीरों की चोरी

Friday, July 22, 2011
आमतौर पे जब भी ये बात होती है की अंग्रेजों ने किस सबसे कीमती हीरे या रत्न को अपने देश से चुराया है तो सबके ज़बान पे एक ही नाम होता है- कोहि...

अकबर-बीरबल --एक माइक्रो पोस्ट

Thursday, July 21, 2011
अकबर - बीरबल, आज तुम्हारा इम्तिहान लेंगे हम..देखेंगे तुम नवरत्नों में शामिल होने लायक हो या नहीं.. बीरबल - जैसा आप उचित समझें जहाँपनाह. अक...

आखिर कब तक?

Thursday, July 14, 2011
कल का दिन अच्छा था मेरा, शाम को मुड भी अच्छा लग रहा था,पूरी शाम मैं बाहर था, एक दूकान में चाय पी ही रहा था की सोचा घर बात कर लूँ, यूँ तो शा...
Powered by Blogger.